कुर्ग आकर चखें वेजिटेरियन से लेकर नॉन वेजिटेरियन डिशेज की ढेरों वैराइटी

कुर्ग आकर चखें वेजिटेरियन से लेकर नॉन वेजिटेरियन डिशेज की ढेरों वैराइटी

खुशबूदार लौंग, इलायची, काली मिर्च और दालचीनी जैसे मसाले आपको कुर्ग में जरूर खरीदने चाहिए। ताजा कुर्गी मसाले आपके खाने को और भी लज्जतदार और आपके स्वास्थ्य को बेहतर कर देंगे। कुर्ग में भारी मात्रा में कोको के फल का भी उत्पादन होता है, जिनका उपयोग चॉकलेट बनाने में होता है। यदि आप चॉकलेट खाने के शौकीन हैं तो आप यहां के बाजार से या तो यहां ताजा बनी हुई चॉकलेट खरीद सकते हैं या फिर कोको के फल खरीदकर खुद घर पर अपनी ‘डार्क चॉकलेट’ बना सकते हैं। ‘सुपर फूड’ माना जाने वाला अवोकेडो आपके शहरों में भले ही सबसे महंगा फल हो, किन्तु ‘बटर फ्रूट’ नाम से मशहूर यह फल यहां काफी किफायती दाम में मिल जाएगा। इन सबके अलावा विराजपेट का ‘कुर्गी शहद’ भी आप मदिकेरी के बाजार से खरीद सकते हैं। और हां, आप यहां से कॉफी की दुर्लभ लकडिय़ों से बने टेबल तथा बाकी कलाकृतियां भी अपने साथ ले जा सकते हैं।

बागानों की सैर की ऑनलाइन बुकिंग
केवल कॉफी ही नहीं, कुर्ग में अनन्नास, लीची, इलायची, चीकू और अन्य फलों और मसालों के बागान की सैर कर सकते हैं। इन बागानों की सैर की जानकारी तथा बुकिंग आप ऑनलाइन कर सकते हैं।

जून से फरवरी के बीच का समय कुर्ग की यात्रा के लिए बेहतर माना जाता है। हालांकि यहां कभी भी बारिश हो जाती है, इसिलए छतरी रखना न भूलें। कर्नाटक के मैसूर शहर से कुर्ग 117 किलोमीटर दूर स्थित है। बस, कार, कैब या बाइक से कुर्ग के मुख्य शहर मदिकेरी तक पहुंचा जा सकता है। नजदीकी हवाई अड्डा और रेलवे स्टेशन मैसूर और बेंगलुरू में स्थित है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s