मैसूर महल की खूबसूरती और भव्यता को देखने देश-विदेश के पर्यटकों की लगती है भीड़

आप इस महल में गोंबे थोटी या डॉल्स पवेलियन से प्रवेश कर सकते हैं। इस प्रवेश द्वार पर 19वीं और 20वीं शताब्दी की बनी गुड़ियों का एक समूह रखा गया है। इस महल में इंडो-सारासेनिक, द्रविडियन, रोमन और ओरिएंटल शैली का वास्तुशिल्प देखने को मिलता है। इस तीन तल्ले महल के निर्माण में निर्माण के … Continue reading मैसूर महल की खूबसूरती और भव्यता को देखने देश-विदेश के पर्यटकों की लगती है भीड़

उत्तरी भारत का नंदनकानन है खूबसूरत पिंजौर गार्डन

पिंजौर राजा विराट की नगरी थी और पहले इसका नाम पंचपुर था, जो बाद में पिंजौर के नाम से मशहूर हुआ। राजा विराट प्रजापालक, धर्मात्मा और दयालु प्रकृति के शासक थे। यहां 365 बावडि़यां बनी हुई थी, जो बाद में लुप्त हो गई। प्राचीन हिंदू मंदिरों, जलकुंडों के चिह्नों और धरती के नीचे से निकली … Continue reading उत्तरी भारत का नंदनकानन है खूबसूरत पिंजौर गार्डन

इन 5 जगहों पर करें हनीमून की प्लानिंग, नहीं पड़ेगी जेब पर भारी

नेपाल नेपाल का ट्रिप आप बहुत ही कम बजट में प्लान कर सकते हैं। फ्लाइट के अलावा यहां ट्रेन और सड़कमार्ग द्वारा भी पहुंचा जा सकता है। भारतीयों को यहां वीज़ा की जरूरत नहीं पड़ती तो आप यहां वीज़ा पर लगने वाले खर्चे को भी बचा सकते हैं। हनीमून ही नहीं नेपाल घूमने के लिहाज … Continue reading इन 5 जगहों पर करें हनीमून की प्लानिंग, नहीं पड़ेगी जेब पर भारी

बहुत ही खूबसूरत भारत के इन 5 आश्रम आकर कर सकते हैं एन्जॉयमेंट के साथ रिलैक्स भी

Art of living ashram 1982 में बने श्री श्री रविशंकर के 'आर्ट ऑफ लिविंग' आश्रम में मेडिटेशन और योग द्वारा स्ट्रेस मैनेजमेंट से लेकर सेल्फ डेवलपमेंट तक के प्रोग्राम कराए जाते हैं। इसके अलावा अपनी लाइफ को कैसे अच्छा और बेहतर बना सकते हैं इस तरह के भी प्रोग्राम्स भी आयोजित होते रहते हैं जिनमें … Continue reading बहुत ही खूबसूरत भारत के इन 5 आश्रम आकर कर सकते हैं एन्जॉयमेंट के साथ रिलैक्स भी

पार्टनर के साथ मॉनसून सीजन को एन्जॉय करने के लिए परफेक्ट हैं ये 5 डेस्टिनेशन्स

लोनावला, महाराष्ट्र लोनावाला एक खूबसूरत हिल स्टेशन है जो सह्याद्री पर्वत की गोद में स्थित है, यह पुणे से लगभग 65 किमी और मुंबई से 80 किलोमीटर दूर है। मॉनसून इस छोटे से शहर का आनंद लेने के लिए सबसे अच्छा समय है। लोनावाला न केवल सुंदर है, बल्कि आपको एक लुभावने दृश्य के लिए … Continue reading पार्टनर के साथ मॉनसून सीजन को एन्जॉय करने के लिए परफेक्ट हैं ये 5 डेस्टिनेशन्स

कुर्ग आकर चखें वेजिटेरियन से लेकर नॉन वेजिटेरियन डिशेज की ढेरों वैराइटी

खुशबूदार लौंग, इलायची, काली मिर्च और दालचीनी जैसे मसाले आपको कुर्ग में जरूर खरीदने चाहिए। ताजा कुर्गी मसाले आपके खाने को और भी लज्जतदार और आपके स्वास्थ्य को बेहतर कर देंगे। कुर्ग में भारी मात्रा में कोको के फल का भी उत्पादन होता है, जिनका उपयोग चॉकलेट बनाने में होता है। यदि आप चॉकलेट खाने … Continue reading कुर्ग आकर चखें वेजिटेरियन से लेकर नॉन वेजिटेरियन डिशेज की ढेरों वैराइटी

धार्मिक और रहस्य-रोमांच का अनोखा तालमेल है चार धामों में से एक ‘यमुनोत्री’ की यात्रा

उत्तराखंड हिमालय में स्थित विश्र्व प्रसिद्ध चारधाम की यात्रा इस बार सात मई से शुरू हो रही है। अक्षय तृतीया पर इसी दिन यमुनोत्री व गंगोत्री धाम के कपाट ग्रीष्मकाल के लिए खोले जाने हैं, जबकि 12 ज्योतिर्लिंगों में शामिल केदारनाथ धाम के कपाट नौ मई और भू-वैकुंठ बदरीनाथ धाम के कपाट 10 मई को … Continue reading धार्मिक और रहस्य-रोमांच का अनोखा तालमेल है चार धामों में से एक ‘यमुनोत्री’ की यात्रा

सुकून के साथ नेचर के बीच बिताना हो समय, तो लैंसडाउन है बहुत ही अच्छी जगह

महानगर के समीप अगर कोई हिल स्टेशन हो, तो आज की भागती जिंदगी के लिए वह सोने पर सुहागे से कम नहीं है। दिल्लीवासियों के लिए उत्तराखंड या हिमाचल प्रदेश के पर्यटन स्थल सबसे पसंदीदा वीकेंड गेटवेज में से एक हैं। खासकर, ऋषिकेश, मसूरी, नैनीताल, शिमला, मनाली आदि। लेकिन यहां कई बार भीड़ छुट्टियों का … Continue reading सुकून के साथ नेचर के बीच बिताना हो समय, तो लैंसडाउन है बहुत ही अच्छी जगह

खतरनाक और अजीबो-गरीब एक्सपीरियंस के लिए थाईलैंड की ये जगहें हैं दुनियाभर में मशहूर

खतरनाक नहीं मज़ेदार है ये स्नैक फॉर्म रास्ते में चलते-फिरते कहीं अचानक से सांप नज़र आ जाए तो उसके बाद की हालत से हम सब वाकिफ हैं लेकिन थाईलैंड के स्नैक फॉर्म का नज़ारा देखकर हर किसी की सांसें थम जाती है। स्टॉफ ही नहीं कुछ जाबांज टूरिस्ट्स भी यहां सांपों के साथ करतब करते … Continue reading खतरनाक और अजीबो-गरीब एक्सपीरियंस के लिए थाईलैंड की ये जगहें हैं दुनियाभर में मशहूर

देश के 12 ज्योतिर्लिंगों में सबसे खास है बदरीनाथ, जहां पांडवों की तपस्या से प्रकट हुए थे भगवान शिव

रुद्रप्रयाग जिले में समुद्रतल से 3553 मीटर (11654 फीट) की ऊंचाई पर मंदाकिनी व सरस्वती नदी के संगम पर स्थित केदारनाथ धाम का देश के बारह ज्योतिर्लिंगों में विशिष्ट स्थान है। कथा है कि महाभारत युद्ध के बाद पांडव अपने पापों का प्रायश्चित करने केदारनाथ पहुंचे और भगवान शिव की घोर तपस्या की। उनकी तपस्या … Continue reading देश के 12 ज्योतिर्लिंगों में सबसे खास है बदरीनाथ, जहां पांडवों की तपस्या से प्रकट हुए थे भगवान शिव