फैमिली संग गर्मी की छुट्टियों को बनाएं यादगार, डलहौजी की सैर के साथ

देश के बेहतरीन बोर्डिंग स्कूल यहां के बोर्डिंग स्कूल, गुरूनानक पब्लिक स्कूल, सेक्रेड हार्ट पब्लिक स्कूल यहां के टॉप स्कूलों में शामिल हैं। जहां न केवल देश बल्कि विदेशों से भी स्टूडेंट्स पढ़ने आते हैं। डलहौजी में घूमने वाली जगहें पंजपूला डलहौजी के खास पर्यटक स्थलों में पहला नाम पंजपूला है। पंजपूला यहां स्थित स्वतंत्रता … Continue reading फैमिली संग गर्मी की छुट्टियों को बनाएं यादगार, डलहौजी की सैर के साथ

भगवान शिव के पुराने मंदिर इस जगह को बनाते हैं खास, रोज़ाना हजारों की तादाद में आते हैं श्रद्धालु

समृद्ध मंदिर श्रृंखला बाह से 11 किमी. का रास्ता तय कर जब हम बटेश्वर में दाखिल हुए तो गंतव्य पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जन्मस्थली (हालांकि कुछ प्रमाणपत्रों में ग्वालियर दर्ज है) उनका पैतृक निवास था, लेकिन बटेश्वर में प्रवेश करते ही नज़र अचानक एक समृद्ध मंदिर श्रृंखला की ओर मुड़ जाती है। एक … Continue reading भगवान शिव के पुराने मंदिर इस जगह को बनाते हैं खास, रोज़ाना हजारों की तादाद में आते हैं श्रद्धालु

असम के इस ऑफ बीट डेस्टिनेशन जाकर करें अलग तरह के एडवेंचर को एक्सप्लोर

चराइदेव मिस्त्र के पिरामिडों जैसी समाधियांयह स्थान अहोम राजा-रानियों की समाधियों के कारण मशहूर है। शिवसागर से लगभग एक घंटे ड्राइव कर आप यहां पहुंच सकते हैं। यहां कुल 42 समाधियां हैं। इनका आकार-प्रकार मिस्त्र के पिरामिडों से काफी मिलता-जुलता है। यहां के स्तंभ और अन्य स्मारकों को देखकर मध्यकालीन असम के वास्तुकारों के कला-कौशल … Continue reading असम के इस ऑफ बीट डेस्टिनेशन जाकर करें अलग तरह के एडवेंचर को एक्सप्लोर

गर्मी से राहत पाने के साथ ही कुछ नए और अनोखे एक्सपीरियंस के लिए लाहौल-स्पीति का करें प्लान

10वीं सदी का त्रिलोकीनाथ मंदिर यह मंदिर 10वीं शताब्दी में बनाया गया था। 2002 में मंदिर परिसर में पाए गए शिलालेख से इसका खुलासा हुआ था। जिला मुख्यालय केलंग से लगभग 45 किलोमीटर की दूरी पर है। त्रिलोकीनाथ मंदिर का प्राचीन नाम टुंडा विहार है। शिलालेख में इसका वर्णन किया गया है कि यह मंदिर … Continue reading गर्मी से राहत पाने के साथ ही कुछ नए और अनोखे एक्सपीरियंस के लिए लाहौल-स्पीति का करें प्लान

कार या बाइक नहीं इंडिया की इन 10 जगहों पर लें साइकिल से घूमने-फिरने का मज़ा

बैंगलुरु से नंदी हिल्स अगर आप शहर के आसपास कहीं जाकर वीकेंड एन्जॉय करने की सोच रहे हैं तो निकल जाएं नंदी हिल्स की ओर। जहां जाकर आपको एहसास होगा कि क्यों टीपू सुल्तान ने इस जगह को चुना था गर्मियों के सैरगाह के लिए। मंजिल तक पहुंचने का रास्ता बड़ा ही खूबसूरत है और … Continue reading कार या बाइक नहीं इंडिया की इन 10 जगहों पर लें साइकिल से घूमने-फिरने का मज़ा

फनी की ऊंची लहरों से तबाह हुआ ओडिशा का खूबसूरत और पॉप्युलर ईको-पर्यटन स्थल

ओडिशा में केंद्रपाड़ा जिले के भितरकणिका नेशनल पार्क में हबेलिकाहती, बहुत ही मशहूर और खूबसूरत आइलैंड है जिसका नज़ारा अब पूरी तरह से बदल चुका है और इसकी वजह है 3 मई को आया फोनी चक्रवात। हालांकि, मौसम विभाग की सर्तकता ने इस तूफान से होने वाले जान-माल के नुकसान को तो काफी हद तक … Continue reading फनी की ऊंची लहरों से तबाह हुआ ओडिशा का खूबसूरत और पॉप्युलर ईको-पर्यटन स्थल

प्रयागराज आएं तो इन 5 जायकों को बिल्कुल न करें मिस, जिसे खाने के लिए जुटती है भारी भीड़

कचौड़ी सब्जी प्रयागराज में ही नहीं उत्तर प्रदेश के ज्यादातर शहरों में आप सुबह-सुबह कचौड़ी-सब्जी का स्वाद ले सकते हैं। ये यहां का पसंदीदा नाश्ता है जिसे खाने वालों में स्थानीय लोगों की भीड़ ज्यादा नज़र आती है। उड़द दल कचौड़ी को आलू-टमाटर और मसालों से बनने वाली सब्जी के साथ लोग चटकारे ले लेकर … Continue reading प्रयागराज आएं तो इन 5 जायकों को बिल्कुल न करें मिस, जिसे खाने के लिए जुटती है भारी भीड़

मनाली में डूंगरी मेले में शामिल होकर देखें यहां के अनोखे कल्चर की झलक

हिमाचल के मनाली में हर साल मई महीने में धूमधाम से मनाया जाने वाला डुंगरी फेस्टिवल, यहां के सबसे बड़े फेस्टिवल्स में से एक है। हिडिंबा देवी के जन्मोत्सव पर हर साल 14 से 16 मई तक इस मेले का आयोजन होता है। तीन दिनों तक मनाए जाने वाले इस उत्सव के दौरान मनाली का … Continue reading मनाली में डूंगरी मेले में शामिल होकर देखें यहां के अनोखे कल्चर की झलक

देश के सबसे बड़े और सुरक्षित किलों में शामिल गोलकोंडा को देखे बगैर अधूरी है हैदराबाद की यात्रा

शुरुआत में यह मिट्टी का किला था लेकिन कुतुब शाही वंश के शासनकाल में इसे ग्रेनाइट से बनवाया गया। दक्कन के पठार में बना यह सबसे बड़े किलों में से एक था, इसे 400 फुट उंची पहाड़ी पर बनवाया गया था। इसमें सात किलोमीटर की बाहरी चाहरदीवारी के साथ चार अलग– अलग किले हैं। चाहरदीवारी … Continue reading देश के सबसे बड़े और सुरक्षित किलों में शामिल गोलकोंडा को देखे बगैर अधूरी है हैदराबाद की यात्रा

5-7 हजार के बजट में घूमने के लिए बेहतरीन है भारत की ये 6 जगहें

अंडरेट्टा धौलधार पहाड़ियों पर बसा छोटा सा गांव है अंडरेट्टा, जो खूबसूरती के अलावा खासतौर से अपनी कला के लिए जाना जाता है। इसके अलावा अंडरेट्टा आकर आप नोरा सेंटर फॉर आर्ट, अंडरेट्टा पॉटरी एंड क्रॉफ्ट सोसाइटी, नोरा मड हाउस और सर शोभा सिंह आर्ट गैलरी का भी दीदार कर सकते हैं। कम बजट के … Continue reading 5-7 हजार के बजट में घूमने के लिए बेहतरीन है भारत की ये 6 जगहें